Posts

Showing posts from April 22, 2020

इंटरनेट पर ये सर्च किया तो हो जाएगी जेल , क्यों प्रतिबंधित है ये शब्द इंटरनेट पर ? क्यों

Image
दोस्तों जब आप इंटरनेट पर कुछ भी सर्च करते है तो कई बार आपको पता ही नहीं होता की आपको इंटरनेट पर सब कुछ नहीं सर्च करना होता , कई शब्द ऐसे होते है जिन्हे अगर आप इंटरनेट पर सर्च करनेगे तो वह क़ानूनी जुर्म होता है और जिसके बदले आपको जेल हो सकती है तो आइये आज हम आपको इन्ही word , शब्दों के बारे में बताते है , इस तरह के शब्दों को चार अलग अलग श्रेणी में रखा गया है द फर्स्ट प्रफानिटी शब्द है जो आपत्तिजनक शब्दों का इस तरह से इस्तेमाल किया जाता है जिससे पता चलता है कि आप ईश्वर या पवित्र चीजों का सम्मान नहीं करते हैं। दूसरा शपथ शब्द है कि आप शपथ लेते हैं और आप सच नहीं कह रहे हैं या ऐसा कुछ नहीं कह रहे हैं जो वास्तव में सच नहीं है। तीसरा लानत और बुरा शब्द है जो एक इच्छा है कि इंसान, जानवर या निर्जीव के साथ कुछ बुरा हो। चौथा अपमानजनक शब्द है जो किसी को यह बताने का एक तरीका है कि वे गलत, बुरे या अरुचिकर हैं। सबसे पहले हम आपको सोशल मीडिया ,फेसबुक पर प्रतिबंधित शब्दों की सूचि बताते है जो इस प्रकार है  2 girls 1 cup, 2g1c, 4r5e, 5h1t, 5hit, a$$, a$$hole, a_s_s, a2m, a54, a55, a55hole

वर्मी कम्पोस्ट इकाई स्थापित करने के लिए मिल रही है 20 लाख तक सब्सिडी Source: वर्मी कम्पोस्ट इकाई स्थापित करने के लिए मिल रही है 20 लाख तक सब्सिडी

Image
वर्मी कम्पोस्ट इकाई स्थापित करने के लिए मिल रही है 20 लाख तक सब्सिडी वर्ष  2018 – 19 में केंद्र सरकार ने नीम कोटेड यूरिया की एक बैग में 5 किलोग्राम वजन कम कर दिया है | इसका मुख्य कारण बताते हुये सरकार का कहना है की यूरिया की ज्यादा उपयोग से मिटटी की उर्वरा शक्ति का ह्रास होता है, इसलिए देश के सभी किसान जैविक खाद का उपयोग ज्यादा से ज्यादा करें | जैविक खाद को बढ़ावा देने के लिए सरकार ने वर्मी कम्पोस्ट की स्थापना के लिए किसानों को भारी मात्रा में सब्सिडी दे रही है | सरकार वर्मी कम्पोस्ट की इकाई की स्थापना के लिए भारी सब्सिडी दे रही है | यह सब्सिडी छोटे स्तर से लेकर बड़े स्तर की यूनिट बनाने के लिए दी जा रही  है | इसमें क्रमशः 1000, 2000, और 3000 में. टन क्षमता तक दिया जा रहा है | इस सब्सिडी का लाभ वह सभी किसान ले सकते हैं जो खुद की खेती के लिए जैविक खाद तैयार करना चाहते हैं अथवा वर्मी कम्पोस्ट का व्यापारिक उत्पादन करना चाहते हैं | सब्सिडी लेने के लिए पात्रता इस योजना के अंतर्गत व्यक्तिगत , सहकारी, निजी प्रतिष्ठान, कम्पनी, किसान हित समूह, स्वंय सहायता समूह , सरकारी तथा गैर सरकारी प्रतिष्ठ