अमिताभ बच्चन की जीवनी , AMITABH BACHCHAN BIOGRAPHY HINDI ,

नमस्कार दोस्तों .

आज इस पोस्ट में हम बात करेंगे सिनेमा जगत की एक महान हस्ती के बारे में , जिनका नाम लेते ही फिल्म हिट हो जाती है , और इनके संघर्ष के बारे में , अपने शुरुआती जीवन में इन्होने बहुत कष्ट झेले , लेकिन अपनी मेहनत और लगन से वो बन गए है बोललयवूड के शहंशाह जी है हम बात कर रहे है अमिताभ बच्चन की ,

Image result for COPYRIGHT FREE IMAGE OF AMITABH BACHCHAN

अमिताभ बच्चन सायद ही कोई इंसान ऐसा होगा जो टीवी या सिनेमा देखता हो और वो इस नाम से अपरिचित हो , तो चालिये शुरू करते है अमिताभ बच्चन से जुडी हर छोटी से छोटी और बड़ी बात ....
अमिताभ बच्चन हिंदी फिल्मो का जाना पहचाना नाम है , हिंदी सिनेमा जगत में कुछ ही लोग है जो अमिताभ बच्चन के साथ फिल्मो में पिछले ४ दसको से भी ज्यादा समय से काम कर रहे है , अमिताभ बच्चन की शुरआती कुछ फिल्मो को देखकर लोग उन्हें एंग्री यंग मैन कहने लगे , कुछ लोग उन्हें सदी का महानायक तो कुछ लोग शहंशाह के नाम से बुलाते है ,
बहुत काम लोग जानते है की अमिताभ बच्चन हमारे पूर्व प्रधान मंत्री राजीव गाँधी के दोस्त थे और उन्होंने राजनीती में भी अपनी किस्मत आजमाई , उन्होंने देश के आठवे आम चुनाव में इलाहाबाद ( प्रयाग राज ) से चुनाव लड़ा और उस समय के प्रशिद्ध नेता एच् एच एन बहुगुणा को हराया, इसके बाद उन्होंने ३ साल तक वहां एक नेता के रूप में काम किया लेकिन ये राजनैतिक जीवन उन्हें ज्यादा नहीं भाया और उन्होंने ३ साल में ही अपने पद से स्तीफा दे दिया और फिर कभी राजनीती में नहीं गए ,

Image result for COPYRIGHT FREE IMAGE OF AMITABH BACHCHAN

अमिताभ बच्चन का जन्म ११ अक्टूबर १९४२ को उत्तर प्रदेश राज्य के इलाहाबाद (प्रागराज ) जिले में हुआ था , इनके पिता का नाम हरिवंश राय बच्चन था और इनकी माता का नाम तेजी बच्चन था , इनके पिता एक बहुत ही प्रशिद्ध कवी थे जिनकी बहुत सी कविताए बच्चो को आज भी स्कूल में पढाई जाती है , अमिताभ के एक छोटे भाई भी है जिनका नाम अजिताभ है ,  आपको बता दे की इनके पिता हरिवंश राय बच्चन उस समय के प्रशिद्ध कवी सुमित्रानंदन पंत के बहुत अच्छे दोस्त थे और उन्ही के कहने पर अमिताभ बच्चन का नाम रखा गया ,

पढाई
अमिताभ बच्चन की पढाई की बात करे तो उन्होंने इलाहाबाद के शेरवुड कॉलेज से पढाई की उसके बाद उन्होंने दिल्ली विश्वविद्यालय के किरोरीमल कॉलेज से की थी। अमिताभ बच्चन अपने स्कूल और कॉलेज में बहुत अच्छे छात्र रहे ,

करियर :

Image result for COPYRIGHT FREE IMAGE OF AMITABH BACHCHAN

आपको बता दे की अमिताभ बच्चन का शुरुआती सफर काफी संघर्ष भरा रहा उन्होंने सबसे पहले वौइस् नरेटर के तौर पर फिल्म भुवन शोम से हुयी थी , लेकिन एक अभिनेता के तौर पर उन्होंने सबसे पहले साथ हिंदुस्तानी फिल्म में काम किया ,इसके बाद उन्होंने कई फिल्मो में काम मिला लेकिन कोई भी फिल्म सफल नहीं हुई, वो सिनेमा जगत छोड़ने ही वाले थे लेकिन उससे पहले उन्होंने फिल्म जंजीर बनाई , ये फिल्म इतनी हिट हुई की उनके करियर का टर्निंग पॉइंट बन गयी , फिल्म जंजीर के बाद उन्होंने एक से बढ़कर एक हिट फिल्मो की लाइन लगा दी और फिर कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा , उन्होंने बॉलीवुड को अपने अभिनय का लोहा मनवाया और हर वर्ग के लोगो के बीच लोकप्रिय हुए ,

शादी :


Image result for COPYRIGHT FREE IMAGE OF AMITABH BACHCHAN WITH JAYA BACHCHAN

अमिताभ बच्चन की शादी जया बच्चन से हुई जिनसे उन्हें दो बच्चे हैं। अभिषेक बच्चन उनके सुपुत्र हैं और श्वेता नंदा उनकी सुपुत्री हैं। रेखा से उनके अफेयर की चर्चा भी खूब हुई और लोगों के गॉसिप का विषय बनी।

अमिताभ बच्चन के नाम एक से बढ़कर एक हिट फिल्मे है लेकिन या पर हम आपको बताएंगे उनकी कुछ खास फिल्मे
सात हिंदुस्तानी, आनंद, जंजीर, अभिमान, सौदागर, चुपके चुपके, दीवार, शोले, कभी कभी, अमर अकबर एंथनी, त्रिशूल, डॉन, मुकद्दर का सिकंदर, मि. नटवरलाल, लावारिस, सिलसिला, कालिया, सत्ते पे सत्ता, नमक हलाल, शक्ति, कुली, शराबी, मर्द, शहंशाह, अग्निपथ, खुदा गवाह, मोहब्बतें, बागबान, ब्लैक, वक्त, सरकार, चीनी कम, भूतनाथ, पा, सत्याग्रह, शमिताभ जैसी शानदार फिल्मों ने ही उन्हें सदी का महानायक बना दिया।

उनके अभिनय को सभी ने बहुत सरहाया पर इसके लिए३ उन्हें कई पुरुस्कार भी मिले , उनके कुछ प्रशिद्ध पुरुस्कार इस तरह है
सर्वश्रेष्ठ अभिनेता के तौर पर उन्हें 3 बार राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार मिल चुका है। इसके अलावा 14 बार उन्हें फिल्मफेयर अवार्ड भी मिल चुका है। फिल्मों के साथ साथ वे गायक, निर्माता और टीवी प्रजेंटर भी रहे हैं। भारत सरकार ने उन्हें पद्मश्री और पद्मभूषण सम्मान से भी नवाजा है
आइये जानते है अमिताभ बच्चन सी जुडी कुछ रोचक बाते:
अमिताभ बच्चन को सदी का महानायक खा जाता है है इसी के साथ साथ वो फिल्म इंडस्ट्रीज के सुपरस्टार भी है ,

Image result for COPYRIGHT FREE IMAGE OF AMITABH BACHCHAN FILM ZANJEER

जंजीर फिल्म आने से पहले उनकी लगभग १० फिल्मे फ्लॉप हो गयी थी और उन्होंने फिल्म इंडस्ट्रीज छोड़ने का मन बना लिया था लेकिन फिल्म जंजीर ने उनके लिए बॉलीवुड के दरवाज़े खोल दिए और उन्होंने एक के बाद एक सदाबहार फिल्मो की लाइन लगा दी , आपको बता दे की फिल्म जंजीर अमिताभ बच्चन से पहले उस वक़्त के कई बड़े सुपर स्टार्स को ऑफर की गयी थी उनमे एक नाम फिल्मो के मशहूर एक्टर राजकुमार भी थे ,

 70 और 80 के दौर में फिल्‍मी सीन्‍स में अमिताभ बच्‍चन का ही आधिपत्‍य था। इस वजह से फ्रेंच डायरेक्‍टर फ़्राँस्वा त्रुफ़ो ने उन्‍हें 'वन मैन इंडस्‍ट्री' तक करार दिया था।

Image result for COPYRIGHT FREE IMAGE OF AMITABH BACHCHAN FILM ZANJEER

अपने करियर के दौरान उन्होंने कई अवार्ड जीते है , उन्हें फिल्म फेयर अवार्ड के लिए सबसे ज्यादा बार नामांकित किया गया है ,
 फिल्मो में बोले गए उनके डायलॉग आज भी लोगो के बीच लोकप्रिय है ,

 उन्‍हें भारत सरकार की तरफ से 1984 में पद्मश्री, 2001 में पद्मभूषण और 2015 में पद्मविभूषण जैसे सम्‍मान मिल चुके हैं।
आपको बता दे की अमिताभ बच्चन ने फिल्मो में आने से पहले रेडिओ  ( विविध भारती ) में भी अप्लाई किया वहां से उन्हें उनकी भरी आवाज़ के कारन निकाल दिया गया ,  उसके बाद उन्होंने फ़िल्मी जगत में कदम रखा वहां भी उन्हें कई बार अपनी भरी आवाज़ के कारन परेशानी झेलनी पड़ी , बाद में यही भरी आवाज़ उनकी पहचान बनी , और पहचान बनने के बाद जब वो प्रशिद्ध हुए तब रेडिओ ने उनकी आवाज़ में कुछ बोलने का आग्रह किया लेकिन उन्होंने यह कहकर मना कर दिया की मेरी आवाज़ भरी है और वो किसी काम की नहीं , आपने देखा होगा की रेडिओ पर आज भी अमिताभ बच्चन की आवाज़ नहीं सुनाई जाती .

फिल्मो में वापसी :

- आपको बता दे की साल २००० से पहले उनके फ़िल्मी करियर को लगभग ख़तम माना जा रहा था , लेकिन साल २००० में आयी फिल्म मोहब्बते ने बॉक्स ऑफिस पर झंडे गाड़ दिए और अमिताभ बच्चन ने फिर से एक बार फिर अपने अभिनय का लोहा मनवाते हुए एक के बाद एक कई फिल्म दी ,

Image result for COPYRIGHT FREE IMAGE OF AMITABH BACHCHAN FILM MOHABBATEIN

 2005 में आई फिल्‍म 'ब्‍लैक' में उन्‍होंने शानदार अभिनय किया और उन्‍हें राष्‍ट्रीय फिल्‍म पुरस्‍कार से एक बार फिर सम्‍मानित किया गया।

- फिल्‍म पा में उन्‍होंने अपने बेटे अभिषेक बच्‍चन के ही बेटे का किरदार निभाया। फिल्‍म को काफी पसंद किया गया और एक बार फिर उन्‍हें राष्‍ट्रीय फिल्‍म पुरस्‍कार से नवाजा गया।

- वे काफी लंबे समय से गुजरात पर्यटन के ब्रांड एंबेसडर भी हैं।

- उन्‍होंने टीवी की दुनिया में भी बुलंदियों के झंडे गाड़े हैं और उनके द्वारा होस्‍ट किया गया केबीसी बहुत पापुलर हुआ। इसने टीआरपी के सारे रिकार्ड तोड़ दिए और इस प्रोग्राम के जरिए कई लोग करोड़पति बने।

 जून 2000 में वे पहले ऐसे एशिया के व्‍यक्ति थे जिनकी लंदन के मैडम तुसाद संग्रहालय में वैक्‍स की मूर्ति स्‍थापित गई थी।

- उनके ऊपर कई किताबें भी लिखी जा चुकी हैं-

  अमिताभ बच्‍चन: द लिजेंड 1999 में, टू बी ऑर नॉट टू बी: अमिताभ बच्‍चन 2004 में, एबी: द लिजेंड (ए फोटोग्राफर्स ट्रिब्‍यूट) 2006 में, अमिताभ बच्‍चन: एक जीवित किंवदंती 2006 में, अमिताभ: द मेकिंग ऑफ ए सुपरस्‍टार 2006 में, लुकिंग फॉर द बिग बी: बॉलीवुड, बच्‍चन एंड मी 2007 में और बच्‍चनालिया 2009 में प्रकाशित हुई हैं।

- वे शुद्ध शाकाहारी हैं और 2012 में 'पेटा' इंडिया द्वारा उन्‍हें 'हॉटेस्‍ट वेजिटेरियन' करार दिया गया। पेटा एशिया द्वारा कराए गए एक कांटेस्‍ट पोल में एशिया के सेक्सियस्‍ट वेजिटेरियन का टाईटल भी उन्‍होंने जीता।

सामाजिक कार्य :

आपको बता दे की अमिताभ बच्चन बॉलीवुड के शहंशाह होने के साथ साथ वो एक दरिया दिल इंसान भी है , सामाजिक कार्यो में वो हमेसा आगे रहते है , कुछ दिन पहले कर्ज से दुबे आंध्रा प्रदेश के किसानो की ११ लाख रूपये देकर मदद की , ऐसे ही विदर्भ के किसानों की भी उन्‍होंने 30 लाख रूपए की मदद की। इसके अलावा और भी कई ऐसे मौके रहे हैं जिसमें अमिताभ ने दरियादिली दिखाई है और लोगों की मदद की है।


सोशल मीडिया :
सोशल मीडिया पर भी अमिताभ बच्चन काफी एक्टिव रहते है , वो फेस बुक ट्विटर पर अपने फेन्स से जुड़े रहते है और वहां आकर उनसे बात भी करते है ,

दो दोस्तों आपको ये पोस्ट कैसी  लगी हमे कमेंट करके जरूर बताइये  ?, अगर  अच्छी लॉगी हो तो हमे फॉलो कीजिए  और पोस्ट को ज्यादा से ज्यादा शेयर कीजिए ,
निचे कुछ लिंक दिए गए हैंयह जाकर आप हमे फॉलो कर सकते है ,

हमारा फेसबुक पेज :

https://www.facebook.com/updatedailynews/?ref=bookmarks

हमारा इंस्टाग्राम लिंक :

rahul.rana2445

ट्विटर लिंक :

@RAHULTHAKUR2444

यूट्यूब चॅनेल :

INDIAN RANA STUDIO

Comments

Popular posts from this blog

भारत की इस एकमात्र फ़ूड कंपनी के साथ जुड़कर कीजिए लहसुन पैकिंग का काम वेतन 87000 रूपये महीना

भारत की इन 4 बड़ी कंपनियों के साथ मिलकर घर बैठे करे BLUE TEA (नीली चाय) ग्रीन कॉफ़ी , और GREEN TEA की पैकिंग का काम हर महीने मिलेगा १ लाख रूपये

घर बैठे करे पैकिंग का काम कमाए लाखो रूपये महीना , पॉपकॉर्न कंपनी दे रही है मौका