जीरा की खेती बनेगी किसानो के लिए वरदान लाखो नहीं करोड़ो में होगी कमाई

जीरा की खेती बनेगी किसानो के लिए वरदान लाखो नहीं करोड़ो में होगी कमाई

जैसा की आप जानते है मसालों के रूप में जीरा की मांग पूरी दुनिया में दिन पर दिन बढ़ रही है , हम सब जानते है जीरा मसालों के रूप में प्रयोग किया जाता है लेकिन साथ ही साथ यह कुछ औषधियों  में भी प्रयोग में लाया जाता है ,


Jeera at Rs 217/kilogram | Indrani Nagar | Lucknow| ID: 16322621662

आपको बता दे की भारत जीरे का सबसे बड़ा एक्सपोर्टर है , और यूरोपीय देशो में काले जीरे की मांग सबसे ज्यादा है ,ऐसे में जीरे की खेती किसानो के लिए वरदान साबित हो रही है ,
जीरे की बढ़ती मांग को देखते हुए , हमारे देश के वैज्ञानिको ने जीरे की कुछ और किस्मे विक्षित की है जो की ज्यादा पैदावार देती है , इन किस्मो से किसान अच्छी पैदावार व बहुत अच्छा मुनाफा  बहुत कम समय में कमा रहे है ,

हमारे देश के एक कृषि वैज्ञानिक ने बताया की जीरे की फसल की बुवाई 1 नवम्बर से लेकर 25 नवम्बर के बीच कर देनी चाहिए , क्योकि उस समय तापमान 20  से लेकर 25  सेंटीग्रेड तक रहता है जोकि जीरे की खेती की बुवाई के लिए सबसे अच्छा होता है ,



जीरे की कुछ उन्नत किस्मे जो देती है बम्पर पैदावार :

जीरे की आरजेड -19 , आरजेड - 209 , जीसी-4 और आरजेड - 223  किस्मे सबसे अच्छी मानी जाती है , क्योकि ये बहुत अच्छी फसल देती है , साथ ही साथ इनमे खेती सम्बन्धी बीमारी बहुत कम आती है ,


जीरे की खेती के लिए मिटटी :

Black Cumin Seeds v. Nigella Seeds (Kalonji) | Big Apple Curry

जीरे की खेती के लिए बलुई दोमट , और दोमट मिटटी में सबसे अच्छी होती है ,

किसानो की पसंद :
काले जीरे की खेती भी अब किसानो के लिए पहली पसंद बन रही है ,हिमाचल ,उत्तराखंड और राजस्थान में काले जीरे की खेती बड़े जोरो से की जा रही है , जिससे किसानो को बहुत ही अच्छा मुनाफा हो रहा है ,

आपको बता दे यह खेती बाग के अंदर भी की जा सकती है , हिमाचल में सेब के बागानों के अंदर जीरा उगाकर किसान लाखो कमा रहे है ,
जड़ी बूटी शोध संसथान के वैज्ञानिक ने बताया की काले जीरे के बीजो को उच्च क्वालिटी के मसालों के रूप में प्रयोग किया जाता है , इसका बाज़ारी भाव भी अच्छा मिलता है , यह विदेशी  बाजार में 1500  रूपये किलोग्राम से 1800  रूपये किलोग्राम तक बिकता है ,
यह खाने में स्वाद को बढ़ने के साथ साथ पेट की बीमारियों को भी ठीक करता है जैसे कब्ज , एसिडिटी , भूख न लग्न आदि ,

कृषि वैज्ञानिक ने बताया की विदेशो में काले जीरे का तेल भी बनाया जाता है , विदेशो में इसके सुगन्धित तेल को उच्च क्वालिटी की सरब में मिलाकर उसे सुगन्धित बनाया जाता है ,
काले जीरे की विदेशो में इतनी मांग है की भारत अभी इसका सिर्फ 10 प्रतिशत ही पूरा कर पा रहा है , इसलिए आप इस खेती को बिना डरे कर सकते है ,

जीरे का पौधा १५.५  सेमि उचा होता है , इसमें सफ़ेद रंग के फूल खिलते है ,

जीरा की खेती कितने दिनों की है ?
जीरा की खेती 120 से 125 दिनों की है |

सिंचाई कब करें?

सिंचाई बुवाई के तुरंत बाद करें | याद रहे सिंचाई हल्की होनी चाहिए तथा तेज धार में नहीं करें | तेज धार में करने से जीरा पानी में बह कर एक जगह पर आ जाता है | दूसरी सिंचाई बुवाई के 7 दिन बाद करें | इसके बाद प्रत्येक 20 दिन के अंतराल पर 4 से 5 सिंचाई आवश्य दें | याद रहे जीरे के फूल पर सिंचाई नहीं करें |

बीज का उपयोग कितना और कैसे करें ?

जीरा की बीज 12 किलोग्राम / हे. होता है तथा इसकी बुवाई 1 से 1.5 सेमी. की गहराई तक ही करें | इससे ज्यादा की गहराई पर बोने से बीज की अंकुरण कम होता है | बीज की बुवाई तो छित के होती है लेकिन अगर सीरी विधि से करें तो ज्यादा अच्छा रहता है | इससे खरपतवार निकासी में अच्छा रहता है |





Comments

  1. Replies
    1. Ye sala madarchod froud hain iska kam bas duniya lutna hain

      Delete
    2. Ye sala madarchod froud hain iska kam bas duniya lutna hain

      Delete
  2. Ye sala madarchod froud hain iska kam bas duniya lutna hain

    ReplyDelete
  3. I am interested in your work please cost of seeds 8858877500

    ReplyDelete
  4. Tum jaise chutye log kabhi खेती nahi ki hai lekin khethi ki video banakar kyo किसानों का samay ख़राब kar rahe हो.

    ReplyDelete
  5. Ye mujhe bhi lagta hai ki ye fraud hai kyuki iski jitni bhi video hai sab me profit investment se 4 guna zayada batata hai bhai agar itna profit hai toh khud kar le kyu video me bana k khud ka time waist kar raha hai

    ReplyDelete
  6. अच्छी जानकारी के लिए धन्यवाद !

    ReplyDelete

Post a Comment

Popular posts from this blog

भारत की इस एकमात्र फ़ूड कंपनी के साथ जुड़कर कीजिए लहसुन पैकिंग का काम वेतन 87000 रूपये महीना

भारत की इन 4 बड़ी कंपनियों के साथ मिलकर घर बैठे करे BLUE TEA (नीली चाय) ग्रीन कॉफ़ी , और GREEN TEA की पैकिंग का काम हर महीने मिलेगा १ लाख रूपये

घर बैठे करे पैकिंग का काम कमाए लाखो रूपये महीना , पॉपकॉर्न कंपनी दे रही है मौका